गणतंत्र दिवस देशभक्ति मेसेज व अनमोल वचन | Republic Day Quotes and SMS in hindi

सीमा पर लोग मरते हैं वो खुशनसीब अमर हो जाते हैं मेरी बदकिस्मती हैं ये हम आम जिन्दगी जिए चले जाते हैं

सीमा पर लोग मरते हैं
वो खुशनसीब अमर हो जाते हैं

मेरी बद किस्मती हैं ये
हम आम जिन्दगी जिए चले जाते हैं


कोई ‘हस्ती’ कोई ‘मस्ती’
कोई ‘चाह’ पे मरता है..
कोई ‘नफरत’ कोई ‘मोहब्बत’
कोई ‘लगाव’ पे मरता है..
ये “देंश” है उन ‘दिवानों’ का
यहां हर बन्दा
अपने “हिंदुस्तान” पे मरता है..


वीरों के बलिदान की कहानी हैं ये
 माँ के कुर्बान लालो की निशानी हैं ये
यूँ लड़ लड़ कर इसे तबाह ना करना
देश हैं कीमती
उसे धर्म के नाम पर नीलाम ना करना|


बचपन का वो भी एक दौर था
गणतंत्र में भी ख़ुशी का शौर था
ना जाने क्यूँ  मैं इतना बड़ा हो गया
इंसानियत में मज़हबी बैर हो गया


ना जियों धर्म के नाम पर
ना मरो धर्म के नाम पर
इंसानियत ही हैं धर्म वतन का
बस जियों वतन के नाम पर


क्या हिन्दू क्या मुस्लिम
क्या सिक्ख क्या ईसाई
मेरी माँ ने कहा था
हम सब हैं भाई-भाई


न पाल हिन्दू मुस्लिम का बैर
मेरी माँ के प्यार को न बना इतना गैर
उसके दिल में सभी समान हैं
सब मिलकर रहे इसी में उसकी शान हैं


खूबसूरती ऐसी हैं मेरे वतन की
शान हैं दिल में तिरंगे की

जिन्दगी से इतना प्यार न रह गया
भारत माँ का दुलार ही जीवन बन गया 


माँ तूझे सलाम
तू मस्तक पर विराजे 
यही हैं मेरी शान
तिरंगा मिले कफन में मुझे
यही उपहार होगा तेरा
हर जीवन तेरे आँचल में खिले
यही अरमान होगा मेरा


ऐ बन्दे !
ना हिन्दू बन, ना मुस्लिम,
न भ्रष्टाचार का गुलाम,

बस एक इंसान बन
कुछ ऐसे कर्म कर,
के खुद से कोई शर्म ना हो |


देश भक्तों के बलिदान से,

स्वतंत्र हुए हैं हम…

कोई पूछे कौन हो,

तो गर्व से कहेंगे, भारतीय हैं हम..


आओ झुक कर सलाम करें उनको
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है
खुशनसीब होता है वो खून
जो देश के काम आता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *